बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी के बारे में ये रोचक तथ्य जानकर रह जायेंगे आप !

interesting facts about banaras hindu university

पंडित मदन भला इनको कौन नही जानता आखिर इन्होने बनारस मे इस्थित बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी की शुरआत जो करी थी . इन्होने बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी का उद्घाटन 1916 में किया था . इस यूनिवर्सिटी का सिर्फ एक ही लक्ष्य रहा है और वो है भारत देश के युवा लोगो को आगे लेके जाना और ये लक्ष्य को प्राप्त करने में यूनिवर्सिटी अब तक कामयाब भी रही है . देश का निर्माण ये यूनिवर्सिटी बखूबी कर रही है . लगभग 100 साल पूरी कर चुकी है ये यूनिवर्सिटी लेकिन ये ठहरने का नाम नही ले रही है आम तौर पर इतने समय में यूनिवर्सिटी बंद हो जाती है जबकि बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी अपने सिलेबस में नए नए कोर्स ला रही है ताकि बच्चे अच्छी पढाई कर सके . मैंने कई पुराने कॉलेज देखे है जो लगभग ५० साल भी पुरे नही करते और बंद हो जाते है आखिर उनके ट्रस्ट को नुक्सान जो होने लग जाता है .

एक अखबार ने सर्वे किया था बेस्ट कॉलेज का उसमे अवल नंबर पर बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी ही थी थी . पिछले पांच या छे साल से यूनिवर्सिटी टॉप पे है और उम्मीद करती है आगे भी अपना स्थान बनाये रखेगी . हमने हमेशा देखा है जो वक़्त के साथ खुदको बदल लेता है व्ही आगे बढता है और वैसा ही बनारस की इस हिन्दू यूनिवर्सिटी ने भी किया है ये वक़्त के साथ बदलती रही इसने सिर्फ साइंस या कॉमर्स को ही खुदकी जिन्दगी नही बनाई बल्कि हर कोर्स को इसने अपनाया है . दुनिया में जो भी नए कोर्सेज आते है वो बहुत ही जल्दी बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी में आ जाते है . इसके सफल होने का कारण भी शायद यही है . यह यूनिवर्सिटी अब पीएचडी भी कराती है . ये यूनिवर्सिटी आल इन वन प्रतीत होती है . इस यूनिवर्सिटी में बच्चो की फिजिकल फिटनेस को भी महत्व दिया गया है जिसके कारण यहाँ पर रोज खेल खुद की प्रतियोगिता होती है . यहाँ पर हॉस्टल के अंदर बच्चों को पौष्टिक खाना दिया जाता है . यूनिवर्सिटी की फीस भी और कॉलेज से कम ही है .

Read More  भारत ने बनाया दुनिया का सबसे शक्तिशाली ड्रोन ,अमेरिका भी हुआ फ़ैल जाने पूरी खबर !